संविधान का अमल यह एक कान्तिकारी घटना है. जो दो-तिन हजार साल के बाद में घटित बड़ी घटना है जिससे हमारे अधिकार का दस्तावेज़ीकरण हुआ है.